कोरोना जैसे वायरस चीन से ही क्यो फैलते है।




 इस समय कोरोणा वायरस काफी चर्चा में है, इजैसे वायरससका मुख्य केंद्र चीन है। चीन के आलावा अठारह और भी देश इस वायरस की चपेट में है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने वैश्विक आपातकाल की घोषणा की है। कोरोना वायरस का अभी तक कोई भी कारगर इलाज नहीं है। इसका अभी तक कोई भी टीका उपलब्ध नहीं है। यह एक नए प्रकार की बीमारी है, जो पहली बार चीन के वुहान शहर में पाया गया है। इससे चीन में 200 से अधिक लोगों की जाने जा चुकी है, और 1000 से अधिक लोग पीड़ित है। इस वायरस से पीड़ित लोगों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। कई देशों की सरकार ने अपने नागरिकों को चीन ना जाने की सलाह दी है

चीन के कई शहरों में आपातकाल जैसी स्थिति है।

अब सवाल उठता है कि आखिर इस तरह के खतरनाक वायरस चीन से ही क्यो फैलते है।

ज्ञात हो कि सार्स वायरस, H1N1 और बर्डफ्लू जैसी महामारी चीन से ही फैली थी। इससे कई लोगो की जाने गई थी।

और भी कई तरह के वायरस फैले इन सबका सम्बद्ध कहीं न कहीं चीन से ही रहा है, आखिर क्या है, इसकी वजह इसके बारे में विस्तृत से जानते है।

कोरोना जैसे वायरस फैलने की वजह?

सबसे पहले कोरोना वायरस चीन के वुहान शहर के सबसे बड़ा मीट बाज़ार से फैला है। इस बाज़ार में हरेक तरह के जंगली जीवजंतु जैसे, सांप, छिपकली, सूअर, बंदर, कुत्ते और चमगादड़ इत्यादि के मांस मिलते है। चीन के लोग चमगादड़ का सूप बड़े चाव से पीते है। कोरोंना वायरस जानवरो में पाए जाने वाला एक वायरस है, जो मनुष्यो में जानवरों के मांस खाने से फैला है। चीन के लोग मांसाहारी भोजन ज़्यादा पसंद करते है, जो इस तरह के वायरस को फैलने का एक ये भी कारण हो सकता है।

कोरोणा वायरस के लक्षण क्या है

इस वायरस से संक्रमित लोगो को जुकाम, सांस लेने में समस्या, बुखार और फेफड़े सम्बंधित समस्याएँ होने लगती है।

कोरोना वायरस से बचाव के उपाय।

इस वायरस को पूरी तरह ठीक करने के लिए अभी तक किसी भी प्रकार की कोई भी दवा उपलब्ध नहीं है। लेकिन कुछ सावधानी बरती जाए तो इससे बचा जा सकता है, जैसे साबुन से हाथ को धोना, सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना, मास्क पहन कर रहना और संक्रमित व्यक्ति से दूर रहना इत्यादि शामिल है। 

गोरा होने का घरेलू उपचार || Home remedy for fair skin




गोरा और सुंदर दिखना हर एक व्यक्ति का सपना होता है। सभी लोग चाहते है कि उनका रंग गोरा रहे और सुंदर दिखे, इसके लिए बाज़ार में उपलब्ध क्रीम और फेस वाश का प्रयोग करते है, जो महंगे होने के साथ स्किन के लिए भी काफी खतरनाक होता है, क्योंकि जितने भी क्रीम होते है उनमें ज्यदतर स्टेरॉइड का इस्तेमाल किया जाता है। जिसके कारण वह क्रीम बहुत ही जल्द असर दिखाती है और लोग गोरे होने लगते है। लेकिन इस तरह की क्रीम का ज़्यादा और लंबे समय तक इस्तेमाल करने से कई तरह को समस्या उत्पन्न हो जाती है, जैसे स्किन सेंसेटिव हो जाना, स्किन लाल हो जाना और चेहरे बाल का उगना इत्यादि,

कहने का आशय यह है कि ये सब जितने भी तरह के क्रीम है, आपको कम समय के लिए फायदा तो दिखाती है, लेकिन कई सारे दुष्परिणाम छोड़ जाते है।

ये कुछ घरेलू नुस्खे कई जिसका इस्तेमाल कर के आप गोरे हो सकते है और किसी भी प्रकार का कोई नुकसान भी नहीं होता है और ये सस्ते भी होते है, साथ ही ये आपको आसानी से अपने किचन में मिल सकता है, तो अाइए जानते है, ये कुछ घरेलू उपाय...

1. टमाटर और नींबू का फेस पैक।

टमाटर के छिलके को हटाकर उसके अंदर जो पल्प होता है, उसमे थोड़ा-सा एक या दो बूंद नींबू का रस मिला लेे और इस फेस पैक को अपने चेहरे पर अप्लाई करे, सूखने के लिए आधे घंटे तक छोड़ दे उसके बाद धो लें, यह प्रक्रिया आपको सप्ताह में दो से तीन बार करनी है, आप देखेंगे आपका चेहरा पहले से गोरा और सुंदर हो जाएगा। स्किन में ग्लो आना शुरू हो जाएगा।

2.संतरे का छिलका।

संतरे का छिलका, हमारे फेस का लिए काफी फायदेमंद होता है। इसके लिए संतरे के छिलके को धूप में सुखाकर पाउडर बना ले और उसमे ब्राउन शुगर थोड़ा-सा एड कर ले, फिर गुलाब जल की सहायता से पेस्ट बना ले और उसे चेहरे पर लगा ले और एक घंटे के बाद धो ले, आपका चेहरा ग्लो करने लगेगा, इस तरह आप इसे भी सप्ताह में 2 से3 बार लगा सकते है।

3.चंदन का पाउडर

चंदन का पाउडर भी चेहरे के लिए काफी बढ़िया होता है। इसके लिए आधा चमच चंदन पाउडर में एक चुटकी हल्दी और 4से 5 बूंद बादाम का तेल मिक्स कर लेे और अपने चेहरे पर लगा ले और आधा घंटे के बाद धो ले, इससे आपके चेहरे के दाग़ धब्बे और डार्क सर्कल मिट जायेंगे और आपका चेहरा चमकने लगेगा। ये प्रक्रिया सप्ताह में दो बार करे।

4.बेसन और दही।

बेसन और दही का इस्तेमाल कर चेहरे का कालापन दूर किया जा सकता है। इसके लिए सबसे पहले बेसन, दही और हल्दी का मिश्रण बना ले और चेहरे पर अप्लाई करे, इससे चेहरे की सारी गंदगी दूर हो जाती है और चेहरा चमकने लगता है। इसका आप इस्तेमाल कर के गोरा हो सकते है।

आपको ये लेख कैसा लगा, कॉमेंट में ज़रूर बताएँ, कोई सुझाव हो तो वह भी से सकते है, आपके कॉेंट्स का इंतजार रहेगा।

धन्यवाद्। 

खांसी ठीक करने का घरेलू इलाज || Best home remedy For Cough

खांसी ( cough) एक सामान्य बीमारी है,जो किसी भी उम्र में ,किसी को भी हो सकती है। खांसी(Cough) वैसे तो किसी भी मौसम में हो सकता है,लेकिन सर्दी में ज्यादा होता है।खांसी(Cough) दो प्रकार के होते है,एक सूखी खांसी ( Cough)जिसमें  बलगम नहीं  निकलता है, और ज्यादा खांसने पर सीने में दर्द  और गले में दर्द इत्यादि हो सकता है। दूसरी होती वेट कोफ ,यानी बलगम वाली खांसी ,इसमें खांसने पर बलगम निकलता है,और जुकाम भी होता।इन सारी खांसी को ठीक करने के लिए आपको रामबाण घरेलू उपचार बताने जा रहे जिसके इस्तेमाल से आप बिना किसी दवा के ठीक हो सकते है।

ये कुछ निम्नलिखित उपचार है जिसका आप इस्तेमाल कर सकते है,इसका किसी भी प्रकार का कोई नुकसान नहीं होता है-

. अगर आपको ज्यादा खांसी(Cough)होती है, यानी सुखी  खांसी(cough)है, तो हल्के गुनगुने दूध में थोड़ा सा हल्दी पाउडर मिला कर आप रात में पी सकते है, जिससे आपको खांसी( cough) से राहत मिल सकता है।

. हल्के गुनगुने पानी को धीरे धीरे पीने से भी खांसी(cough) में राहत मिलती है।

.अंवला के इस्तेमाल से भी खांसी में काफी राहत होता है,क्योंकि आंवला में विटामिन सी की मात्रा ज्यादा होता है ,जिसके कारण ये ब्लड को सर्कुलेट करता ,और इम्यून सिस्टम को बूस्ट करता है।

. आधा चमच शहद में एक चुटकी इल्याची पाउडर और थोड़ा सा नींबू का रस मिलाकर ,दिन में दो से तीन बार सेवन करने से खांसी में काफी आराम मिलता है।

.लहसुन(Garlic)को घी में भूनकर गरमा गरम खाने से भी खांसी में काफी राहत मिलता है।

.अगर खांसी(cough) बहुत ज्यादा है ,और बार- बार होता है तो अदरक का रस और शहद(Honey) को मिक्स करके इस्तेमाल करने से खांसी में काफी राहत मिलता है।

.अनार का रस भी खांसी(cough) में काफी फायदमंद होता है,लेकिन ये सिर्फ अकेला काम नहीं करता है इसमें ,थोड़ा सा पीपली का पाउडर और अदरक का रस मिलना होता है।

.अगर खांसने पर बलगम ज्यादा आता है,तो काली मिर्च को घी में मिलाकर लेने से बहुत ही ज्यादा फायदा होता  है।

. अगर खांसी करने के समय आपको गले में दर्द होता है तो एक अदरक के टुकड़े पर थोड़ा सा नमक लगाकर खाने से , गले के दर्द में काफी राहत मिलता है।

इन सब में से किसी भी नुस्खे को आप आजमा 

धन्यवाद

फटी हुई एड़ियों का घरेलू उपचार (crack heal solution)

एड़ियों का फटना (crack heel) स्त्री और पुरुषों दोनों में देखने को मिलता है।यह समस्या वैसे तो हर किसी भी मौसम में हो सकता है,लेकिन सर्दी में एड़ियों (Heel)
 का फटना ज्यादा होता है।लोग अक्सर अपने चेहरे पर
 तो ध्यान देते है,लेकिन एड़ियों की देखभाल ठीक से नहीं
 करते है,जिसके कारण Heel  ज्यादा फटती है।अगर स्त्रियों की Heel crack हो तो सैंडल पहनना मुश्किल हो जाता है, कई लोगो को उसमे दर्द होता है, कभी कभी खून भी निकलता है,और देखने में भी काफी बेकार लगता है। तो हम कुछ घरलू नुस्खे के बारे में बात करते है, जिसके इस्तेमाल से आप अपनी Crack  हुई एड़ियों का इलाज़ घर पर कर सकते है,बिना किसी नुकसान के और कम खर्च में।

१. नारियल तेल( coconut oil)

नारियल तेल के इस्तेमाल से crack हुई एड़ियों को काफी राहत मिलता है।अगर आप क्रैक हुई एड़ियों से परेशान है, तो एक चमच नारियल तेल को गर्म करके प्रभावित स्थान पर हल्के- हल्के मालिश करे और सुबह गर्म पानी से धो ले ,इसी तरह आपको १० से १५ दिन तक करना है,तो आप देखेंगे कि आपकी जो Heel crack हुई है ,वो सुंदर ,कोमल और मुलायम हो जाएंगे।


२. गुलाब जल और ग्लिसरीन। (Rose water and Glycerin)


Crack Heel  ठीक करने में गुलाब जल और ग्लिसरीन काफी फायदेमंद होता है। इसके लिए आपको  गुलाब जल और ग्लिसरीन लेनी है ,जो आपको किसी भी मेडिकल स्टोर पर आसानी से मिल जाएगा , दोनों को समान मात्रा में ले कर मिक्स कर ले और अपनी क्रैक हुई  एड़ियों पर रात में मालिश कर ले , और सुबह उसे गुनगुने पानी से धो ले , इस तरह २ से ३ सप्ताह लगा ले, आपकी समस्या बहुत जल्द ही ठीक हो जाएगी।

३. शहद (Honey)

शहद के इस्तेमाल से भी Crack Heel  में काफी फायदा होता है।इसके लिए आपको एक बर्तन में गुनगुने पानी रख ले, जहां तक आपका पैर उसमे डूब जाए और उसमे  एक चमच शहद डाल लें,  उसके बाद पैर को कम से कम १५ मिनट तक रखें । यह प्रक्रिया आपको २ सप्ताह  तक करनी है, फिर आप देखेंगे की आपकी क्रैक हुई Heekबिल्कुल सुंदर और मुलायम हो जाएगा।

इस तरह आप इन कुछ घरेलू नुस्खे को आजमा कर अपनी क्रैक हुई एड़ियों को ठीक कर सकते है।

आपको ये पोस्ट कैसा लगा कॉमेंट में जरूर बताएं ।

धन्यवाद

Dark circle ठीक करे सिर्फ एक दिन में।

आंखो के नीचे के काले घेरे यानी Dark circle  है,तो वो आपकी खूबसूरती में ग्रहण लगा सकता है।हम आपको कुछ घरेलू नुस्खे बताने जा रहे जिसका इस्तेमाल करके आप बिना पैसे खर्च किए बहुत कम दामो में उसे घर पर ठीक कर सकते है।
Dark circles आजकल अधिकतर लोगों की समस्या है,इसका मुख्य कारण तनाव है, काम की अधिक प्रेशर और तनाव के कारण ठीक से सो नहीं पाते है,जिसके कारण Dark circles ज्यादा होता है।इसके और भी कारण हो सकते है।
तो अाइए हम बात करते वो घरेलू नुस्खे के बारे जिसके इस्तेमाल से आपके Dark circles बिल्कुल ठीक हो जाएंगे।

१.आलू के रस।

Dark circles पर आलू का रस जादू की तरह काम करता है।Dark circles से छुटकारा पाने के लिए कच्छे आलू के रस को कॉटन बॉल में भिगोकर आंख बंद करके  १५से २० मिनट तक रहने दे ,उसके बाद सादे पानी धो ले , यह प्रक्रिया २से ३ हप्ते तक करनी है। आपको Dark circles से छुटकारा मिल सकता है।

2. टमाटर

Dark circles से छुटकारा पाने के लिए टमाटर काफी लगदयक होता है।टमाटर नेचुरली Dark circles दूर करने लिए ,स्किन को कोमल बनता है।इसके लिए एक चमच टमाटर के रस में नींबू के रस का कुछ बूंदे मिलाकर , प्रभावित स्थानों पर लगाने से डार्क सर्किल से छुटकारा मिल सकता है, यह प्रक्रिया कम से कम दिन में दो बार करे।

३.संतरे का रस।

संतरे के रस में कुछ बूंदे Glycerin मिलाकर प्रभावित स्थानों पर लगाने से भी डार्क सर्किल दूर हो जाते है।इसके साथ ही चेहरे पर चमक भी आ जाती है।

४.खीरा


बहुत से लोगो ने डार्क सर्किल दूर करने के लिए खीरे का इस्तेमाल जरूर किया होगा।इसके लिए खीरा को गोल गोल काटकर  Fridge में 1घंटे  के लिए रख दे, उसके बाद उसे १० मिनट के लिए आंखो पर रखे ,इससे आपका Dark circles जल्द से जल्द ठीक हो जाएंगे।

आप को ये पोस्ट कैसा लगा ,कॉमेंट में जरूर बताएं, आपके सुझाव का हमें इंतजार रहेगा।

धन्यवाद

Manforce टैबलेट के फायदे और नुकसान।

हमारे समाज में सेक्स पर खुलेआम बात चित  नहीं होती है, हमेशा लोगो के पास अध्कचरा ज्ञान होता है, जो एक दूसरे से सुनी सुनाई बातों को ध्यान में रखकर कोई भी चीज इस्तेमाल करने लगते है,या कोई भी विज्ञापन देखकर उसकी तरफ आकर्षित हो जाते है,जिसका उन्हे काफी गंभीर खामियाजा भुगतना पड़ता है।उन्हीं में से एक दवा है, मैनफोर्स टैबलेट, जिसका लोग धड़ल्ले से इस्तेमाल करते है।तो आयिए इसके बारे में बाते करते है,आखिर क्या चीज है ये Manforce टैबलेट।

१. Manforce टैबलेट क्या है।

मैनफोर्स टैबलेट MANKIND COMPANY का बना होता है।इसके अंदर sildenafil citrate,  नाम का सल्ट होता है
जो पुरुषों में इरेक्टाइल डिस्फक्शन की समस्यायों को दूर करने में इस्तेमाल होता है।अगर किसी पुरुषों की किसी भी वजह से लिंग में शिथिलता आ चुकी है ,तो उसमे यह टैबलेट काफी कारगर होता है।यह पुरुषों में नपुंसकता दूर करने में भी उपयोग होता है,इसके अलावा इसके और भी कई सारे फायदे होते है।

२. Manforce टैबलेट कहा से खरीद सकते है।

मैनफोर्स टैबलेट एक डॉक्टर prescribe दवा है,इसलिए इसका इस्तेमाल बिना किसी डॉक्टर के सलाह से नहीं करनी चाहिए।यह टैबलेट किसी भी मेडिकल स्टोर या ऑनलाइन मिल सकती है।

३. Mankind manforce , टैबलेट से होने वाले  नुकसान।

यह एक एलोपैथी दवा है,इसका असर बहुत ही जल्द होता है।इसको लेते ही ३० मिनट के बाद काम शुरू हो जाता है।लेकिन आप इस टैबलेट का नियमित इस्तेमाल करते है,तो कई तरह के साइड इफेक्ट देखने को मिले है
जो निम्न है।

. सर दर्द होना

. चक्कर आना।

. आंखो से धुंधला दिखना।

. घुटनों में दर्द होना।

. पेट में गैस बनना।

.पेट में दर्द होना।

.नींद नहीं आना।

. नींद ज्यादा आना।

.इत्यादि।

इसके अलवा भी कहीं तरह के नुकसान देखने को मिले है। इसलिए मैनफोर्स टैबलेट का इस्तेमाल बिना डॉक्टर की सलाह से ना करे।

धन्यवाद्

Vigora tablet फायदे और नुकसान ।

Vigora टैबलेट जर्मन रेमेडीज का एक बेहतरीन उत्पाद है,जो काफी लोकप्रिय टैबलेट है,ये सामान्यतः 50 mg और 100 mg में उपलब्ध है।ये पुरुषों में होने वाले इरेक्टाइल डिस्फक्शन की समस्याओं को ठीक करने के लिए किया जाता है,तो आइए इसके बारे में विस्तारपूर्वक बात करते है।


१. Vigora में कौन सा कंपोजिशन होता है।

Vigora टैबलेट में सिर्फ एक ही composition होता है,वो है sildenafil citrate

२. Vigora टैबलेट का उपयोग क्या है।

कई लोगो में देखा गया है, की बचपन में ज्यादा हस्थमैथुन करने से उनके लिंग में शिथिलता आ जाती है,उसमे कड़कपन कम हो जाता है,जिसके कारण उन्हें बिस्तर पर शर्मिंदा होना पड़ता है।इसका उपयोग पुरुषों में इरेक्टाइल डिस्फक्शन की समस्याओं को दूर करने में किया जाता  है। Vigora टैबलेट का मुख्य काम एक निश्चित भाग में खून का बहाव तेज करना होता है,जिसके कारण लिंग में उत्तेजना आ जाती है।इसके अलावा और भी कई तरह के बीमारियो में इसका उपयोग होता है।

३. Vigora टैबलेट को लेने का डोज क्या है

Vigora टैबलेट हमेशा लेने वाली दवा नहीं है, इसका उपयोग आप तभी कर सकते है,जब इसकी जरूरत हो, क्योंकि इसके लेने के ३० मिनट बाद ही असर शुरू हो जाता है। अगर आप पहले इस टैबलेट का इस्तेमाल नहीं किया है ,तो कम से कम पॉवर वाली टैबलेट लेनी चाहिए।


४. Vigora  टैबलेट का साइड इफेक्ट क्या  है

Vigora टैबलेट को लेने से कई लोगो में निम्न नुकसान देखने को मिले है।

.सर दर्द होना

. चक्कर आना।

. उल्टी होना।

. पेट में गैस बनना।

. पेट में दर्द होना।

. पूरे शरीर में दर्द होना।

. आंखो से धुंधला दिखना।

. आंखो से नीला दिखना।

.इत्यादि।

५. Vigora टैबलेट को लेने से पहले क्या सावधानी बरतनी होती है।

अगर आप vigora टैबलेट का इस्तेमाल करने चाहते है, तो आप ध्यान में रखे कि आपको कोई बीपी  संबंधी समस्या तो नहीं है,क्योंकि इस टैबलेट को खाने से बीपी बढ़ने की समस्या हो जाती है।अगर आपको किडनी या लिवर से रिलेटेड कोई समस्या हो तो इस दवा का सेवन ना करे।अगर आपको इस दवा से Allergy हो तो भी इस दवा का सेवन ना करे।अगर आपने अल्कोहल का सेवन किया हो ,तो भी इस दवा को लेने से बचें, क्योंकि इसको लेने से कई गंभीर समस्या हो सकती है।

६. कुछ सवाल जो हमेशा पूछी जाती है।

Q. क्या vigora  टैबलेट को हमेशा इस्तेमाल कर सकते है।

A. नहीं vigora टैबलेट को आप हमेशा नहीं खा सकते,

 क्योंकि इसके कई गंभीर दुष्प्रिमा देखने को मिले है।

Q. क्या किशोरावस्था में इस टैबलेट को इस्तेमाल करनी चाहिए।

A. नहीं , Vigora टैबलेट को कभी भी किशोरावस्था में नहीं लेनी चाहिए, अगर आप वयस्क है तो ही इस दवा का सेवन करे,  अगर आपकी उम्र 18 साल की हो तभी इसका इस्तेमाल डॉक्टर के बताए हुए डोज के अनुसार करे।

Note- यह एक एलोपैथिक दवा है, साथ ही डॉक्टर prescribe  दवा है,इसको बिना किसी डॉक्टर के सलाह से इस्तेमाल ना करे

आपको यह पोस्ट कैसा लगा कॉमेंट में जरूर बताएं, अगर कोई सुझाव हो तो भी जरूर लिखे, आपके जवाब का इतज़ार रहेगा।

धन्यवाद

कोरोना जैसे वायरस चीन से ही क्यो फैलते है।

 इस समय कोरोणा वायरस काफी चर्चा में है, इजैसे वायरससका मुख्य केंद्र चीन है। चीन के आलावा अठारह और भी देश इस वायरस की चपेट में है। विश्...