फटी हुई एड़ियों का घरेलू उपचार (crack heal solution)

एड़ियों का फटना (crack heel) स्त्री और पुरुषों दोनों में देखने को मिलता है।यह समस्या वैसे तो हर किसी भी मौसम में हो सकता है,लेकिन सर्दी में एड़ियों (Heel)
 का फटना ज्यादा होता है।लोग अक्सर अपने चेहरे पर
 तो ध्यान देते है,लेकिन एड़ियों की देखभाल ठीक से नहीं
 करते है,जिसके कारण Heel  ज्यादा फटती है।अगर स्त्रियों की Heel crack हो तो सैंडल पहनना मुश्किल हो जाता है, कई लोगो को उसमे दर्द होता है, कभी कभी खून भी निकलता है,और देखने में भी काफी बेकार लगता है। तो हम कुछ घरलू नुस्खे के बारे में बात करते है, जिसके इस्तेमाल से आप अपनी Crack  हुई एड़ियों का इलाज़ घर पर कर सकते है,बिना किसी नुकसान के और कम खर्च में।

१. नारियल तेल( coconut oil)

नारियल तेल के इस्तेमाल से crack हुई एड़ियों को काफी राहत मिलता है।अगर आप क्रैक हुई एड़ियों से परेशान है, तो एक चमच नारियल तेल को गर्म करके प्रभावित स्थान पर हल्के- हल्के मालिश करे और सुबह गर्म पानी से धो ले ,इसी तरह आपको १० से १५ दिन तक करना है,तो आप देखेंगे कि आपकी जो Heel crack हुई है ,वो सुंदर ,कोमल और मुलायम हो जाएंगे।


२. गुलाब जल और ग्लिसरीन। (Rose water and Glycerin)


Crack Heel  ठीक करने में गुलाब जल और ग्लिसरीन काफी फायदेमंद होता है। इसके लिए आपको  गुलाब जल और ग्लिसरीन लेनी है ,जो आपको किसी भी मेडिकल स्टोर पर आसानी से मिल जाएगा , दोनों को समान मात्रा में ले कर मिक्स कर ले और अपनी क्रैक हुई  एड़ियों पर रात में मालिश कर ले , और सुबह उसे गुनगुने पानी से धो ले , इस तरह २ से ३ सप्ताह लगा ले, आपकी समस्या बहुत जल्द ही ठीक हो जाएगी।

३. शहद (Honey)

शहद के इस्तेमाल से भी Crack Heel  में काफी फायदा होता है।इसके लिए आपको एक बर्तन में गुनगुने पानी रख ले, जहां तक आपका पैर उसमे डूब जाए और उसमे  एक चमच शहद डाल लें,  उसके बाद पैर को कम से कम १५ मिनट तक रखें । यह प्रक्रिया आपको २ सप्ताह  तक करनी है, फिर आप देखेंगे की आपकी क्रैक हुई Heekबिल्कुल सुंदर और मुलायम हो जाएगा।

इस तरह आप इन कुछ घरेलू नुस्खे को आजमा कर अपनी क्रैक हुई एड़ियों को ठीक कर सकते है।

आपको ये पोस्ट कैसा लगा कॉमेंट में जरूर बताएं ।

धन्यवाद

Dark circle ठीक करे सिर्फ एक दिन में।

आंखो के नीचे के काले घेरे यानी Dark circle  है,तो वो आपकी खूबसूरती में ग्रहण लगा सकता है।हम आपको कुछ घरेलू नुस्खे बताने जा रहे जिसका इस्तेमाल करके आप बिना पैसे खर्च किए बहुत कम दामो में उसे घर पर ठीक कर सकते है।
Dark circles आजकल अधिकतर लोगों की समस्या है,इसका मुख्य कारण तनाव है, काम की अधिक प्रेशर और तनाव के कारण ठीक से सो नहीं पाते है,जिसके कारण Dark circles ज्यादा होता है।इसके और भी कारण हो सकते है।
तो अाइए हम बात करते वो घरेलू नुस्खे के बारे जिसके इस्तेमाल से आपके Dark circles बिल्कुल ठीक हो जाएंगे।

१.आलू के रस।

Dark circles पर आलू का रस जादू की तरह काम करता है।Dark circles से छुटकारा पाने के लिए कच्छे आलू के रस को कॉटन बॉल में भिगोकर आंख बंद करके  १५से २० मिनट तक रहने दे ,उसके बाद सादे पानी धो ले , यह प्रक्रिया २से ३ हप्ते तक करनी है। आपको Dark circles से छुटकारा मिल सकता है।

2. टमाटर

Dark circles से छुटकारा पाने के लिए टमाटर काफी लगदयक होता है।टमाटर नेचुरली Dark circles दूर करने लिए ,स्किन को कोमल बनता है।इसके लिए एक चमच टमाटर के रस में नींबू के रस का कुछ बूंदे मिलाकर , प्रभावित स्थानों पर लगाने से डार्क सर्किल से छुटकारा मिल सकता है, यह प्रक्रिया कम से कम दिन में दो बार करे।

३.संतरे का रस।

संतरे के रस में कुछ बूंदे Glycerin मिलाकर प्रभावित स्थानों पर लगाने से भी डार्क सर्किल दूर हो जाते है।इसके साथ ही चेहरे पर चमक भी आ जाती है।

४.खीरा


बहुत से लोगो ने डार्क सर्किल दूर करने के लिए खीरे का इस्तेमाल जरूर किया होगा।इसके लिए खीरा को गोल गोल काटकर  Fridge में 1घंटे  के लिए रख दे, उसके बाद उसे १० मिनट के लिए आंखो पर रखे ,इससे आपका Dark circles जल्द से जल्द ठीक हो जाएंगे।

आप को ये पोस्ट कैसा लगा ,कॉमेंट में जरूर बताएं, आपके सुझाव का हमें इंतजार रहेगा।

धन्यवाद

Manforce टैबलेट के फायदे और नुकसान।

हमारे समाज में सेक्स पर खुलेआम बात चित  नहीं होती है, हमेशा लोगो के पास अध्कचरा ज्ञान होता है, जो एक दूसरे से सुनी सुनाई बातों को ध्यान में रखकर कोई भी चीज इस्तेमाल करने लगते है,या कोई भी विज्ञापन देखकर उसकी तरफ आकर्षित हो जाते है,जिसका उन्हे काफी गंभीर खामियाजा भुगतना पड़ता है।उन्हीं में से एक दवा है, मैनफोर्स टैबलेट, जिसका लोग धड़ल्ले से इस्तेमाल करते है।तो आयिए इसके बारे में बाते करते है,आखिर क्या चीज है ये Manforce टैबलेट।

१. Manforce टैबलेट क्या है।

मैनफोर्स टैबलेट MANKIND COMPANY का बना होता है।इसके अंदर sildenafil citrate,  नाम का सल्ट होता है
जो पुरुषों में इरेक्टाइल डिस्फक्शन की समस्यायों को दूर करने में इस्तेमाल होता है।अगर किसी पुरुषों की किसी भी वजह से लिंग में शिथिलता आ चुकी है ,तो उसमे यह टैबलेट काफी कारगर होता है।यह पुरुषों में नपुंसकता दूर करने में भी उपयोग होता है,इसके अलावा इसके और भी कई सारे फायदे होते है।

२. Manforce टैबलेट कहा से खरीद सकते है।

मैनफोर्स टैबलेट एक डॉक्टर prescribe दवा है,इसलिए इसका इस्तेमाल बिना किसी डॉक्टर के सलाह से नहीं करनी चाहिए।यह टैबलेट किसी भी मेडिकल स्टोर या ऑनलाइन मिल सकती है।

३. Mankind manforce , टैबलेट से होने वाले  नुकसान।

यह एक एलोपैथी दवा है,इसका असर बहुत ही जल्द होता है।इसको लेते ही ३० मिनट के बाद काम शुरू हो जाता है।लेकिन आप इस टैबलेट का नियमित इस्तेमाल करते है,तो कई तरह के साइड इफेक्ट देखने को मिले है
जो निम्न है।

. सर दर्द होना

. चक्कर आना।

. आंखो से धुंधला दिखना।

. घुटनों में दर्द होना।

. पेट में गैस बनना।

.पेट में दर्द होना।

.नींद नहीं आना।

. नींद ज्यादा आना।

.इत्यादि।

इसके अलवा भी कहीं तरह के नुकसान देखने को मिले है। इसलिए मैनफोर्स टैबलेट का इस्तेमाल बिना डॉक्टर की सलाह से ना करे।

धन्यवाद्

Vigora tablet फायदे और नुकसान ।

Vigora टैबलेट जर्मन रेमेडीज का एक बेहतरीन उत्पाद है,जो काफी लोकप्रिय टैबलेट है,ये सामान्यतः 50 mg और 100 mg में उपलब्ध है।ये पुरुषों में होने वाले इरेक्टाइल डिस्फक्शन की समस्याओं को ठीक करने के लिए किया जाता है,तो आइए इसके बारे में विस्तारपूर्वक बात करते है।


१. Vigora में कौन सा कंपोजिशन होता है।

Vigora टैबलेट में सिर्फ एक ही composition होता है,वो है sildenafil citrate

२. Vigora टैबलेट का उपयोग क्या है।

कई लोगो में देखा गया है, की बचपन में ज्यादा हस्थमैथुन करने से उनके लिंग में शिथिलता आ जाती है,उसमे कड़कपन कम हो जाता है,जिसके कारण उन्हें बिस्तर पर शर्मिंदा होना पड़ता है।इसका उपयोग पुरुषों में इरेक्टाइल डिस्फक्शन की समस्याओं को दूर करने में किया जाता  है। Vigora टैबलेट का मुख्य काम एक निश्चित भाग में खून का बहाव तेज करना होता है,जिसके कारण लिंग में उत्तेजना आ जाती है।इसके अलावा और भी कई तरह के बीमारियो में इसका उपयोग होता है।

३. Vigora टैबलेट को लेने का डोज क्या है

Vigora टैबलेट हमेशा लेने वाली दवा नहीं है, इसका उपयोग आप तभी कर सकते है,जब इसकी जरूरत हो, क्योंकि इसके लेने के ३० मिनट बाद ही असर शुरू हो जाता है। अगर आप पहले इस टैबलेट का इस्तेमाल नहीं किया है ,तो कम से कम पॉवर वाली टैबलेट लेनी चाहिए।


४. Vigora  टैबलेट का साइड इफेक्ट क्या  है

Vigora टैबलेट को लेने से कई लोगो में निम्न नुकसान देखने को मिले है।

.सर दर्द होना

. चक्कर आना।

. उल्टी होना।

. पेट में गैस बनना।

. पेट में दर्द होना।

. पूरे शरीर में दर्द होना।

. आंखो से धुंधला दिखना।

. आंखो से नीला दिखना।

.इत्यादि।

५. Vigora टैबलेट को लेने से पहले क्या सावधानी बरतनी होती है।

अगर आप vigora टैबलेट का इस्तेमाल करने चाहते है, तो आप ध्यान में रखे कि आपको कोई बीपी  संबंधी समस्या तो नहीं है,क्योंकि इस टैबलेट को खाने से बीपी बढ़ने की समस्या हो जाती है।अगर आपको किडनी या लिवर से रिलेटेड कोई समस्या हो तो इस दवा का सेवन ना करे।अगर आपको इस दवा से Allergy हो तो भी इस दवा का सेवन ना करे।अगर आपने अल्कोहल का सेवन किया हो ,तो भी इस दवा को लेने से बचें, क्योंकि इसको लेने से कई गंभीर समस्या हो सकती है।

६. कुछ सवाल जो हमेशा पूछी जाती है।

Q. क्या vigora  टैबलेट को हमेशा इस्तेमाल कर सकते है।

A. नहीं vigora टैबलेट को आप हमेशा नहीं खा सकते,

 क्योंकि इसके कई गंभीर दुष्प्रिमा देखने को मिले है।

Q. क्या किशोरावस्था में इस टैबलेट को इस्तेमाल करनी चाहिए।

A. नहीं , Vigora टैबलेट को कभी भी किशोरावस्था में नहीं लेनी चाहिए, अगर आप वयस्क है तो ही इस दवा का सेवन करे,  अगर आपकी उम्र 18 साल की हो तभी इसका इस्तेमाल डॉक्टर के बताए हुए डोज के अनुसार करे।

Note- यह एक एलोपैथिक दवा है, साथ ही डॉक्टर prescribe  दवा है,इसको बिना किसी डॉक्टर के सलाह से इस्तेमाल ना करे

आपको यह पोस्ट कैसा लगा कॉमेंट में जरूर बताएं, अगर कोई सुझाव हो तो भी जरूर लिखे, आपके जवाब का इतज़ार रहेगा।

धन्यवाद

Patanajli Ashwshila ||पतंजलि अष्वशिला ,कैप्सूल के फायदे और नुकसान।

पतंजलि अश्ववशिला (Ashwshila) पतंजलि का एक बेहतरीन उत्पाद है।इसका उपयोग मुख्य रूप से पुरुषों में यौन कमजोरी को दूर  करने के लिए किया जाता है।यौन दुर्बलता कई प्रकार के होते है,लेकिन यह कुछ प्रकार के यौन दुर्बलता को ठीक करने तथा पूरी तरह से दूर करने में सक्षम है।पतंजलि Ashwshila दो ऐसी सामग्री से बना हुआ है , जो इस तरह की समस्यायों को ठीक करती है।यह हमारे शरीर के immune  सिस्टम को ठीक करता है।

१.पतंजलि Ashwshila  किन दो सामग्री से बना हुआ है और इसका क्या काम है।

पतंजलि Ashwshila  दो सामग्री के मिलने से बना हुआ है।

पहला  अश्वगंधा  और दूसरा शिलाजीत। इसके कार्य निम्न है -


.अश्वगंधा - अश्वगंधा एक जड़ी बूटी है जिसे भारतीय जिन्सेंग भी कहा जाता है।अश्वगंधा प्राचीनतम जड़ी बूटियों में से एक है।अश्वगंधा का मतलब होता है, घोड़े जैसी महक,जब अश्वगंधा के जड़ को निकाला जाता है तो उसमे से पसीने से तर घोड़े जैसे महक आती है,इसलिए इस जड़ी बूटी को अश्वगंधा नाम दिया गया है।अश्वगंधा कैप्सूल इसी जड़ी बूटी से बना हुआ एक दवा है।ये दवा अश्वगंधा के पेड़ों के जड़ो से तैयार की जाती है।यह कैप्सूल बहुत सारी बीमारियो में बेहतर ढंग से काम करती है।प्राचीन समय से अश्वगंधा का प्रयोग सभी उम्र के लोगों के बीमारियो को ठीक करने में किया जाता था । अश्वगंधा का उपयोग बच्चो में दुर्बलता को कम करने तथा बड़ों में स्त्री और पुरुषों के प्रजनन क्षमता को ठीक करने के लिए किया जाता रहा है।


.शिलाजीत - शिलाजीत को भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में बहुत दिनों से उपयोग होता आ रहा है।यह यौन संबधी रोगों तथा लंबी उम्र के लिए इस्तेमाल किया जाता है।शिलाजीत एक गढ़ा लसेदार पदार्थ होता जो हिमालया के पहाड़ों में पाया जाता है।इसका रंग गढ़ा भुरा होता है।आयुर्वेद में शिलाजीत का काफी उपयोग किया गया है।


२.पतंजलि Ashwshila  कैप्सूल का उपयोग और उसके लाभ-

. कामेक्षा में वृद्धि के लिए

.शुक्राणु की संख्या बढ़ाने के लिए।

.पुरुषों में शीघ्रपतन को दूर करने के लिए।

.रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए।

.शारीरिक और मानसिक थकान को बढ़ाने के लिए ।

.सूजन को ठीक करने के लिए।

.तनाव को दूर करने के लिए ।

. दमा को ठीक करने के लिए।

. कब्ज में आराम दिलाने के लिए

.इत्यादि।

पतंजलि Ashwshila कैप्सूल  की कीमत क्या है

यह एक लोकप्रिय औषधि है ,ये किसी भी पतंजलि स्टोर ,मेडिकल स्टोर या ऑनलाइन मिल सकता है ।इसकी कीमत 20 कैप्सूल की कीमत 70 रुपए होती है।


४.पतंजलि Ashwshila  कैप्सूल की खुराक क्या है।

सभी दवा की खुराक बीमारी की जटिलताओं और उम्र तथा वजन को ध्यान में रख कर दिया जाता है।अगर किसी व्यक्ति का वजन ज्यादा है ,तो उस संदर्भ में उसका खुराक बढ़ा दिया जाता है।इसलिए इसके डोज के लिए डॉक्टर से संपर्क जरूर करे।सामान्यतः इसका इस्तेमाल एक कैप्सूल सुबह और एक कैप्सूल शाम पानी या दूध के साथ दिया जाता है।यह एक आयुर्वेदिक दवा है, इसलिए इसको २ से ३ महीने या डॉक्टर की सलाह से इस्तेमाल करने चाहिए।क्योंकि जितनी भी आयुर्वेदिक दावा होती है उसे काम करने में समय लगता है


पतंजलि ashwshila का Side effects क्या है।

वैसे तो यह एक आयुर्वेदिक दवा है,इसलिए इसका कोई नुकसान नहीं होता है,फिर भी किसी भी तरह की कोई दिक्कत होती है तो अपने डॉक्टर से जरूर मिले।


धन्यवाद

स्वप्नदोष को कैसे ठीक करे । How to cure Nightfall.

स्वप्नदोष (Nightfall) युवाओं में होने वाली एक आम समस्या है,जो १५ से २५ साल के युवाओं को ज्यादा होता है। अगर स्वप्नदोष महीने दो से तीन बार होता है तो कोई समस्या नहीं ,लेकिन यही प्रतिदिन या सप्ताह में दो से तीन बार होता है ,तो ये स्वास्थ्य के लिए सही नहीं है,तो आप इससे कैसे ठीक कर सकते है और इससे क्या क्या नुकसान होता है इसके बारे  बात करते है।

१. स्वप्नदोष किस कारण से होता है।

जैसा कि मैंने ऊपर बताया है कि ये खासकर युवाओं में होता है, और जिसकी उम्र १५से २५ के बीच होती है उनको ज्यादा होता है ,क्योंकि इस उम्र में युवाओं को नया नया जोश होता है जिसके कारण उनमें अश्लील विचार ज्यादा आता है,और वो हमेशा लडकिया  और औरतों के बारे में बुरा विचार लाते है, अश्लील वीडियो या तस्वीर देखते है, जिसके कारण उन्हें रात में सोने में वहीं दृश्य नजर आती है ,और उनका वीर्य निकाल जाता है,इसी क्रिया को स्वप्नदोष कहते है।

स्वप्नदोष (Nightfall) से क्या नुकसान होते है।

अगर स्वप्नदोष महीने में एक बार या दो बार होता है तो कोई समस्या नहीं है, लेकिन अगर यह प्रतिदिन या सप्ताह में दो से तीन बार होता है, तक कई तरह की समस्याएं उत्पन्न हो जाती है जैसे  -

A. भूख न लगना।

B. कमजोरी महसूस करना।

C. थकावट होना।

D. किसी भी काम में में न लगना।

E. आंखों के नीचे काले घेरे होना।

F. गाल पिचक जाना।

G. स्मरण शक्ति कमजोर हो जाना।

H. आत्मविश्वास का काम होना ,इत्यादि शामिल है।


३. स्वप्नदोष(Nightfall)  कैसे ठीक हो सकता है।

इसे ठीक करना बहुत ही आसान है, इसके लिए कुछ संयम बरतना पड़ेगा, जैसे अश्लील तस्वीर और वीडियो से दूर रहे, अपने मन में गंदे विचार ना लाए और अपने आप को किस काम में बिजी रखे,और धार्मिक कितबे पढ़े ,इस सब चीजों से काफी फर्क पड़ेगा,।


४. स्वप्नदोष (Nightfall) ठीक करने के लिए कौन सी दवा का इस्तेमाल करना चाहिए

स्वप्नदोष  ठीक करने के लिए आयुर्वेदिक उपचार बढ़िया होता है, इसके लिए आप आंवला चूर्ण रात में खाने के बाद और चंद्रप्रभा वटी  १ गोली सुबह शाम सदे पानी के साथ ले सकते है, इसका सेवन कम से कम ४५ दिन तक करे , आपकी समस्या ठीक हो सकती है,

Note- किसी भी दवा का  सेवन करने से पहले डॉक्टर की  सलाह जरूर लें।

इस पोस्ट से संबंधित किसी भी सुझाव का आपका स्वागत है।

धन्यवाद।

Himalaya Gokshura Tablet फायदे और नुकसान (हिंदी)

Himalya Gokshura टैबलेट , हिमालया company द्वारा बना हुआ एक बेहतरीन दवा है।जिसका इस्तेमाल पुरुषों में कमजोरी को दूर करने  तथा यौन रोगों को दूर करने में  काम आता है।यह टैबलेट पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन को बढ़ाता है तथा महिलाओ में प्रोलैक्टिन की मात्रा को कम करता है

१.हिमालया Gokshura टैबलेट की कीमत क्या है

हिमालया Gokshura की कीमत 152 रुपए में 60 टैबलेट है।

२.इससे कहां से खरीद सकते है।

यह बहुत ही प्रचलित कैप्सूल है ,इसे किसी भी मेडिकल स्टोर से खरीदा जा सकता है,आप इसे ऑनलाइन भी खरीद सकते है।

३, हिमालया gokshura कैप्सूल के फायदे।

हिमालया Gokshura  टैबलेट के फायदे निम्न है -

. पुरुषों में यौन इक्छा को बढ़ाने में।

.शुक्राणुओं की संख्या को बढ़ता है।

.पुरुषों में शारीरिक कमजोरी को दूर करता है।

.मूत्र नली में होने वाले संक्रमण को दूर करता है।

.पुरुषों के मांसपेशियों के विकाश में मदद करता है।

.यह टैबलेट पुरुषों के बॉडी बिल्डिंग के काम आता है

.इत्यादि।

४.हिमालया gokshura को लेने का तरीक़ा

हिमालया Gokshura टैबलेट को इस्तेमाल खाने के बाद करनी चाहिए ।आप एक टैबलेट सुबह और शाम  पानी या  दूध के साथ ले सकते है।

५.हिमालया Gokshura  टैबलेट को लेने से नुकसान क्या है।

यह एक आयुर्वेदिक दवा है, इसलिए इसका कोई ज्यादा साइड इफेक्ट्स नहीं होता है। इसे कभी भी जायदा मात्रा ना ले, किसी डॉक्टर की देख रख में ले तो काफी बेहतर परिणाम देखने को मिलेंगे।

धन्यवाद

Missme tablet के फायदे और नुकसान।

Missme टैबलेट Zee drugs का एक बहुत ही लोकप्रिय दवा है,जिसका इस्तेमाल पुरुषों और महिलाओ की यौन दुर्बलता के लिए किया जाता है

1.Missme टेबलेट में कौन सा composition का इस्तेमाल किया हुआ है।

Missme  टैबलेट में सिर्फ एक ही composition का इस्तेमाल किया गया है,जिसका नाम Tadalfin 10 mg है।


2. Missme टैबलेट की कीमत क्या है।

Missme टैबलेट एक गोली की पैकिंग में उपलब्ध होता    है, और उसकी कीमत 60 रुपए होती है।


3. Missme tablet किसलिए इस्तेमाल होता है।

Missme टैबलेट पुरुष और महिलाओ में सेक्स उत्तेजना बढाने के काम आता है। अगर किसी स्त्री और पुरुष की यौन दुर्बलता है तो उसमे इस गोली का इस्तेमाल किया जाता है, यह गोली खून की परवाह को बढ़ा देता है ,जिससे उनमें उत्तेजना बढ़ जाती है।लेकिन इस टैबलेट का इस्तेमाल डॉक्टर की सलाह से किया जाता है।  बिना किसी डॉक्टर की सलाह से इस टैबलेट का इस्तेमाल नहीं करनी चाहिए।

4. Missme tablet का इस्तेमाल कैसे करे।

Missme टैबलेट खाने के बाद लेना चाहिए,इससे कभी भी खाली पेट ना ले। इस टैबलेट को 24 घंटे में एक बार लेना चाहिए। इस टैबलेट को एक अधिक ना ले।

5. Missme टैबलेट को कहां से खरीद सकते है।

Missme टैबलेट एक बहुत ही लोकप्रिय दवा है, इसलिए आप इससे किसी भी मेडिकल स्टोर से खरीद सकते है, या इसे ऑनलाइन भी मंगवा सकते है।

6. Missme टैबलेट से होने वाले दुष्प्रभाव।

Missme टैबलेट  को लेने से कोई  ज्यादा नुकसान तो नहीं होता है,लेकिन कभी- कभी कई लोगो को  कुछ दिक्कत होती है, जो कुछ समय के लिए होता है और अपने आप ठीक हो सकता है, अगर समस्या लंबे समय  तक रहे तो डॉक्टर से जरूर मिले। Missme टैबलेट से होने वाले दुष्प्रभाव निम्न है ।

सर दर्द होना।

चक्कर आना।

उल्टी होना।

गैस बनना।

एलर्जी होना।

सीने में दर्द।

आंखो से धुंधला दिखाना।

और भी अन्य परेशानी हो सकती है।

इत्यादि।

7.Missme टैबलेट किन लोगो को नहीं लेनी चाहिए।

Missme टैबलेट का उपयोग , आप बिल्कुल ना करे अगर आप को  High BP की समस्या, हार्ट की समस्या, TB  के मरीज हो, वो महिला जो बच्चो को दूध पिलाती हो, गर्भधारण कर रखा हो, तथा Alcohol का इस्तेमाल करता हो,इत्यादि।


नोट - किसी भी दवा को सेवन से पहले डॉक्टर की सलाह जरूरी है।किसी भी तरह के नुकसान कि जिम्मेदारी हमारी नहीं होगी।

अगर आपको कोई  सवाल पूछना  हो तो कॉमेंट कर सकते है।आपके सवाल का इंतजार रहेगा।

धन्यवाद


Himalya CONFIDO tablet फायदे और नुकसान।

Confido टैबलेट  हिमालया  company द्वारा तैयार किया हुआ एक चर्चित दवा है, जो सिर्फ पुरुषों की समस्याओं को ध्यान में रखकर बनाया गया है। यह एक आयुर्वेदिक औषधि है ,जिसमें एक से अधिक जड़ी बूटी का प्रयोग बनाने में किया गया है।

1. हिमालया CONFIDO टैबलेट किसलिए इस्तेमाल किया जाता है।
(Uses of Himalya Confido tablet)



हिमालया confido टैबलेट खासकर वयस्क पुरुषों के लिए इस्तेमाल होता है।यह पुरुषों में होने वाले हैं रोगों को ठीक करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। अगर किसी व्यक्ति को शीघ्रपतन की शिकायत है तो उसमे इस टैबलेट का उपयोग  किया जाता है।इसके अलावा पुरुषों में वीर्य की कमी को दूर करता है, तथा वीर्य गढ़ा करता है, कई लोगो को किशोरावस्था में  स्वप्नदोष के कारण अाई कमजोरी को दूर करता है तथा स्वप्नदोष ठीक करने में मदद करता है।

2. confodo टैबलेट की कीमत क्या है और कहा मिल सकतें है।( what is the price of ConfIdo tablet)

हिमालया CONFIDO  टैबलेट ज्यादा महंगी नहीं होती है, इसके 60 टैबलेट की कीमत 110 रुपए होती है। ये किसी भी मेडिकल स्टोर पर आसानी से उपलब्ध है या इसे आप ऑनलाइन किसी ई कॉमर्स वेबसाइट से भी खरीद सकते है,ऑनलाइन खरीदने के लिए क्लिक करे

3. हिमालया CONFIDO में कौन सी सामग्री मिली हुई है।

हिमालया CONFIDO में कई तरह के जड़ी बूटी का इस्तेमाल किया गया है जो निम्न है -


     सामग्री                मात्रा

१.अश्वगंधा।            ७८

२.वन्यकहू।           २०

३.कोकिलाक्षा।      ३७

४. सर्णवंग।           २०

५. वृद्धदारू।          ३८

६.जीवंती।             २०

७.सैलियम।           २०

८.सर्पगंधा।            १८.७५

4.Confido  टैबलेट को इस्तेमाल का तरीका
(How to use confodo tablet.)

Himalya Confido  टैबलेट एक आयुर्वेदिक औषधि है, इसलिए इसको काम करने में थोड़ा समय लगता है, ये टैबलेट जल्द असर नहीं करती है, लेकिन आपकी समस्या को जड़ से ठीक जरूर कर देती है, अगर आप अपनी समस्या को जड़ से ठीक करना चाहते है ,तो इसे 10 से 12 सप्ताह तक लगातार लेना पड़ेगा । यह टैबलेट बच्चो को इस्तेमाल के लिए नहीं होता है। वयस्क को एक गोली दिन में दो बार लेनी होती है, आगर आप इसका सेवन किसी डॉक्टर की सलाह से करे तो ज्यादा बेहतर होगा ।

5.Himalya CONFIDO टैबलेट का दुष्परिणाम ।
(Side effects of Confido tablet)

यह एक आयुर्वेदिक दवा है ,अगर इसका सेवन निर्धारित मात्रा में किया जाए तो किसी भी प्रकार का दुष्परिणाम नहीं होता है । लेकिन अगर किसी व्यक्ति को रक्तचाप निम्न रहता है, तो इस गोली का सेवन नहीं करना चाहिए। किसी भी दवा का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

धन्यवाद

कोरोना जैसे वायरस चीन से ही क्यो फैलते है।

 इस समय कोरोणा वायरस काफी चर्चा में है, इजैसे वायरससका मुख्य केंद्र चीन है। चीन के आलावा अठारह और भी देश इस वायरस की चपेट में है। विश्...