HIV AIDS, क़े बारे मे जाने!

 एचआईवी, एड्स का कारण बनता है और शरीर की संक्रमण से लड़ने की क्षमता के साथ हस्तक्षेप करता है.



वायरस संक्रमित खून, वीर्य या योनि के तरल पदार्थों से फैल सकता है.
सामान्य
हर साल 10 लाख से ज़्यादा मामले (भारत)
यौन संसर्ग से फैलता है
इलाज से लाभ हो सकता है, लेकिन इसे ठीक नहीं किया जा सकता
लंबे समय तक: सालों तक या सारी ज़िंदगी रह सकता है
डॉक्टर से जाँच कराना ज़रूरी होता है
प्रयोगशाला परीक्षणों या इमेजिंग की हमेशा आवश्यकता होती है
यह कैसे फैलता है
खून से जुड़े प्रॉडक्ट (गंदी सुई या बिना जाँच वाला खून) से.
योनि, गुदा या मुंह से किए गए असुरक्षित सेक्स से.
गर्भावस्था, प्रसव या देखभाल के दौरान मां से बच्चे को.
इसका मकसद सिर्फ़ जानकारी देना है. सलाह पाने के लिए डॉक्टर से संपर्क करें.
स्रोत: अपोलो अस्पताल और अन्य. ज़्यादा जानें

No comments:

Post a comment

HIV AIDS, क़े बारे मे जाने!

  एचआईवी, एड्स का कारण बनता है और शरीर की संक्रमण से लड़ने की क्षमता के साथ हस्तक्षेप करता है. वायरस संक्रमित खून, वीर्य या योनि के तरल पदार...